एमजेआरपी यूनिवर्सिटी की पहल : कोरोना वॉरियर्स-सरवाइवर्स के बच्चों को स्कॉलरशिप, बुजुर्गों के लिए हैल्पलाइन

जयपुर। महात्मा ज्योति राव फुले विश्वविद्यालय ने अपने सामाजिक सरोकार अभियान के तहत कोरोना वॉरियर्स-सरवाइवर्स के बच्चों को दो करोड़ की स्पेशल स्कॉलरशिप ‘कोरोना से जंग-शिक्षा के संग’ देने की घोषणा की है। यूनिवर्सिटी के चेयरपर्सन निर्मल पंवार ने बताया कि स्कॉलरशिप स्कीम ‘कोरोना की जंग-शिक्षा के संग’ के तहत डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ, हाउसकीपिंग, पुलिसकर्मी, पैरामिलिट्री फोर्स, मीडियाकर्मी, सेनिटेशन वर्कर के साथ ही कोरोना सरवाइवर व इससे जान गंवा चुके लोगों के बच्चों को स्कीम का फायदा मिलेगा। इसके तहत यूनिवर्सिटी में संचालित विभिन्न कोर्सेज में एडमिशन में 10 प्रतिशत सीटों पर रिजर्वेशन और कोर्स के दौरान फीस में भी 10 से 50 प्रतिशत की अतिरिक्त छूट दी जाएगी।
इसके अलावा गुलाबी नगर के ‘दादा-दादी, नाना-नानी’ का दर्जा प्राप्त बुजुर्गों की मदद के लिए हैल्पलाइन शुरू की है। इसके तहत www.dada-dadi-nana-nani-sanrakshit.com पर लॉग इन कर मदद हासिल की जा सकती है। चेयरपर्सन पंवार ने बताया कि वैश्विक महामारी कोरोना के दौरान आज शहर में रिश्तों के लिहाज से सबसे अहम माने जाने वाले ‘दादा-दादी, नाना-नानी’ की अहमियत हर आदमी समझें और उन्हें कोई परेशानी नहीं हो, इस अवधारणा को ध्यान में रखते हुए यह अनूठी पहल की गई है। शहर के ‘दादा-दादी, नाना-नानी’ 7 दिन-24 घंटे इस हैल्पलाइन पर मदद हासिल कर सकते हैं। इस हैल्पलाइन की कार्यप्रणाली ‘विश्वास का सहारा’ थीम पर आधारित है। यहां फोन कर शहर के ‘दादा-दादी, नाना-नानी’ का दर्जा प्राप्त वरिष्ठ नागरिक अपनी दवा, भोजन या अस्पताल में दिखाने के लिए मदद हासिल कर सकते हैं। पंवार ने बताया मानव कल्याण एवं जनसेवा के लिए महात्मा ज्योति राव फूले विश्वविद्यालय अग्रणी रहा है। विश्वविद्यालय ने मुख्यमंत्री सहायता कोष में पांच लाख रुपए का सहयोग और जरूरतमंद लोगों के लिए 22000 पैकेट भोजन के उपलब्ध कराए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *